उत्तराखण्डएक्सीडेंटक्राइमदेहरादून

लोडर में धधकी आग- जलने से युवती की संदिग्ध परिस्थिति में मौत

ख़बर शेयर करें -

देहरादून। टैक्सी स्टैंड में कई दिनों से खड़े एक लोडर वाहन में आग लग गई। आग से लोडर वाहन में सोई एक 27 वर्षीय युवती की भी जलकर संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। 

विकासनगर के अस्पताल रोड पर टैक्सी स्टैंड में पिछले कई दिनों से एक खराब लोडर खड़ा था। कोतवाली प्रभारी राजेश शाह ने बताया कि रात करीब डेढ़ बजे सूचना मिली कि टैक्सी स्टैंड में खराब खड़े वाहन में आग लग गई। सूचना पर फायर बिग्रेड को बुलाकर आग को बुझाया गया। आग बुझाने के बाद पुलिस वापस लौट गई। 

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी में स्पा सेंटरों का औचक निरीक्षण, खामियों पर काटे चालान

सुबह लोगों ने वाहन में युवती की लाश देखकर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने शव को कब्जे में लिया। आसपास पूछताछ में शव की पहचान शबाना उर्फ पिंकी पत्नी शमशाद और पुत्री खालिद निवासी मूल सरयू मुर्शिदाबाद वेस्ट बंगाल के रूप में हुई। पुलिस ने शव को परिजनों को सौंप दिया है। उधर, मृतका की मां मिर्जा ने बेटी की हत्या की आशंका जताई है। पुलिस का कहना है कि हर एंगल से जांच की जा रही है।  लोडर वाहन में आग लगने से अंदर सोई हुई युवती की संदिग्ध मौत के मामले में पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठ रहे हैं। 

यह भी पढ़ें -  आदि कैलाश यात्रा- पिथौरागढ़ पहुंचा सातवां दल, हुआ स्वागत

रात को जब पुलिस को लोडर वाहन में आग की सूचना मिली तो पुलिस ने फायर ब्रिगेड के साथ तत्काल मौके पर पहुंचकर आग बुझा दी। लेकिन यह जानने की कोशिश नहीं की कि वाहन के अंदर कोई था कि नहीं। सुबह लोगों ने वाहन में युवती की लाश देखी और पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया। पुलिस के मुताबिक मृतका शबाना उर्फ पिंकी अपने पति शमशाद के साथ आसपास ही घूमती थी। दिनभर घूमने के बाद दोनों खराब पड़े लोडर में ही सो जाते थे। युवती की मां मिर्जा ने बताया कि बेटी का पति पिछले चार दिन से यहां नहीं है। वह दिल्ली गया था।

यह भी पढ़ें -  जमीन का सौदा निरस्त कराने को खेला खेल, दो भाईयों पर दर्ज करा दी छेड़छाड़ की झूठी रिपोर्ट
What’s your Reaction?
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Join WhatsApp Group

Daleep Singh Gariya

संपादक - देवभूमि 24