उत्तराखण्डनैनीतालपर्व

वाद्य यंत्रों की जुगलबंदी के साथ कदमताल होल्यारों ने गाए पारंपरिक होली गीत

ख़बर शेयर करें -

नैनीताल। कुमाऊं की प्रसिद्ध होली गायन की समृद्ध परंपरा को आगे बढ़ाने के लिए कुलपति प्रो. दीवान एस रावत की पहल पर कुमाऊं विश्वविद्यालय की संस्कृति और प्रदर्शन कला परिषद व युगमंच नैनीताल के संयुक्त तत्वाधान में विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन एवं डीएसबी परिसर नैनीताल में प्रथम बार खड़ी होली का आयोजन किया गया।

कुमाऊंनी होली के पारंपरिक वेशभूषा में ढ़ोल मजीरे की थाप पर बाराकोट चम्पावत के होल्यारों ने राग–रागनियों पर आधारित पारंपरिक खड़ी होली के गायन के साथ खूब फाग का रंग जमाया। महिला व पुरुष समूहों ने वाद्य यंत्रों की जुगलबंदी के साथ कदमताल करते हुए ईश्वर को समर्पित पारंपरिक गीत गाए। इस अवसर पर संस्कृति तथा प्रदर्शन कला परिषद के निदेशक डॉ रवि जोशी तथा समन्वयक डॉ मोहित सनवाल द्वारा सभी होल्यारों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि संस्कृति तथा प्रदर्शन कला परिषद द्वारा सांस्कृतिक, संगीत, फिल्म निर्माण, फोटोग्राफी एवं रंगमंच के कार्यक्रमों का आयोजन वर्ष-भर किया जायेगा।

यह भी पढ़ें -  कुमाऊं- खाई में समाई कार, दो लोगों की हुई मौत

कार्यक्रम में निदेशक डीएसबी परिसर प्रो. नीता बोरा शर्मा, कुलसचिव दिनेश चंद्रा, परीक्षा नियंत्रक डॉ महेंद्र राणा, प्रो. संजय पन्त, प्रो. एचसीएस बिष्ट, युगमंच के अध्यक्ष जहूर आलम, हेमंत बिष्ट, उप कुलसचिव दुर्गेश डिमरी, सहायक कुलसचिव बृजमोहन सिंह, एलडी उपाध्याय, भूपाल सिंह करायत, अभिराम पन्त, जगदीश चन्द्र, अलंकार महतोलिया, सुरेश बिनवाल, अदिति खुराना आदि के साथ समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें -  पर्स चोरी कर एटीएम के पिन से निकाल लिए एक लाख, आरोपी गिरफ्तार
What’s your Reaction?
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Join WhatsApp Group

Daleep Singh Gariya

संपादक - देवभूमि 24