उत्तराखण्डजन-मुद्देरामनगर

पकड़ी गई बाघिन, कार्बेट टाइगर रिजर्व की रेस्क्यू टीम ने की ट्रैंकुलाइज

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के रामनगर में  रेस्क्यू ऑपरेशन में कार्बेट टाइगर रिजर्व की रेस्क्यू टीम को बड़ी सफलता मिली है। टीम ने बाघिन को शनिवार की देर रात टैंकुलाइज कर उसे पकड़ लिया है। इस बाघिन ने दस दिन पहले ही किसान को अपना निवाला बनाया था। बाघिन को ढेला रेस्क्यू सेंटर में ले जाने के बाद डीएनए सैंपल  हैदराबाद जांच के लिए भेजा जा रहा है।

18 अप्रैल को बासीटीला गांव में 42 वर्षीय प्रमोद तिवारी उर्फ पप्पू तिवारी को खेत में गेंहू की रखवाली करते समय बाघ ने हमला कर मार दिया था। संयुक्त संघर्ष समिति के साथ ग्रामीण भी बाघ को पकड़ने की मांग कर रहे थे। बाघ को पकड़ने के लिए वन विभाग की ओर से कैमरा ट्रैप लगाए गए। ड्रोन की मदद ली गई। 

यह भी पढ़ें -  तीन बार हो चुके पराजित, फिर भी बना रहे पड़ोसी के जीत का जश्नः भट्ट

वहीं, रात के समय वन कर्मियों की टीम जंगल में डटी रही। बाघ की मूवमेंट पर नजर रखी जा रही थी। सीटीआर निदेशक डा. धीरज पांडेय ने बताया कि लंबे समय से एक बाघ लगातार घटनास्थल पर दिखाई दे रहा था। बाघ की उपस्थिति को देखते हुए उस पर नजर रखी जा रही थी। शनिवार की देर रात बासीटीला गांव के पास बने वॉटर हॉल के करीब बाघ आया तो उसे कॉर्बेट पार्क के वरिष्ठ पशु चिकित्सक डा. दुष्यंत शर्मा की ओर से ट्रैंकुलाइज किया गया। 

यह भी पढ़ें -  लोकसभा चुनाव- मतगणना के लिए तैयारी में जुटी पुलिस, कड़ी रहेगी सुरक्षा
What’s your Reaction?
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Join WhatsApp Group

Daleep Singh Gariya

संपादक - देवभूमि 24