उत्तराखण्डजन-मुद्देहल्द्वानी

पीएम स्वनिधि से संबंधित लंबित आवेदनों का जल्द निस्तारण करें बैंकः डीएम

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। जिलाधिकारी वंदना की अध्यक्षता में कैंप कार्यालय में जिला समन्वयक समिति की बैठक जनपद अंतर्गत कार्यशील बैंकों के बैंक प्रबंधकों और विभिन्न विभागीय अधिकारियों के साथ संपन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा सभी बैंकों के प्रबंधक को निर्देश दिए गए की बैंक खातों को शत प्रतिशत आधार और पेन कार्ड से लिंक किया जाए।

जिलाधिकारी ने बैंक प्रबंधक और विभाग अध्यक्ष को निर्देशित किया कि आपसी समन्वय स्थापित करते हुए शासकीय ऋण योजनाओं में लंबित आवेदनों को 10 मार्च से पहले निस्तारित करने का कार्य कर लें। इसके साथ ही यह भी विशेष ध्यान दें कि केसीसी लिमिट निर्धारण और लोन अप्रूवल के लिए किसानों को ज्यादा चक्कर न लगाने पड़े। इसके लिए गवर्नमेंट स्कीम में एक स्टैंडर्ड चेकलिस्ट बनाएं जिसमें केसीसी और लोन रिक्वायरमेंट की अनिवार्य शर्तों का सुस्पष्ट उल्लेख करें ताकि किसानों को इधर-उधर न भटकना पड़े।

यह भी पढ़ें -  लोकसभा चुनाव- बिगड़ा भाजपा का खेल, कड़ी टक्कर दे रहा इंडिया गठबंधन

जिलाधिकारी ने बैठक में कहा कि पीएम स्वनिधि भारत सरकार की महत्वपूर्ण स्कीम है, जिसका इच्छुक लाभार्थी को अनिवार्य रूप से लाभ मिलना चाहिए। यदि पीएम स्वनिधि से संबंधित कोई आवेदन लंबित है, तो विभाग अध्यक्ष और संबंधित बैंक प्रबंधक आपकी सहमति से शीघ्र उसको हल कर लें। वंदना सिंह ने बैंक प्रबंधकों को निर्देशित किया कि आरसी का मिलान ठीक प्रकार से करें, जिसकी वसूली के लिए रोस्टर तैयार कर नियत तिथि को स्पष्ट जानकारी के साथ उपलब्ध हों।

यह भी पढ़ें -  जानवरों के लिए चारा काट रही महिला पर झपटा गुलदार, मौत

उन्होंने यह भी कहा कि मत्स्यपालन, पशुपालन, कृषि आदि अन्य क्षेत्रों के लिए केसीसी लिमिट सेट करते समय अनावश्यक औपचारिकताओं  की आवश्यकता नहीं है। भारत सरकार का प्रथम उद्देश्य है कृषकों को सहयोग करना उनको अनावश्यक कार्यों में न उलझना पड़े। जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित आरसेटी अधिकारी को निर्देशित किया कि युवाओं को एसी, नलकूप, मोटर रिपेयरिंग, कार रिपेयरिंग आदि अन्य रोजगारपरक कार्य सिखाये जाएं ताकि उनको आजीविका और रोजगार के अवसर प्राप्त हो सके।

जिलाधिकारी वंदना ने बैठक में वित्तीय साक्षरता द्वारा जागरूकता, बैंकों द्वारा ऋण का विवरण, किसानों की आय बढ़ाना, ऋण जमा अनुपात की प्रगति, एनपीए प्रबंधन, कौशल विकास मिशन सहित भारत सरकार द्वारा संचालित योजना के.सी.सी. के अंतर्गत डेयरी एवं मत्स्य पालन हेतु किसानों को ऋण प्रदान करने संबंधी एजेंडों पर बिस्तर चर्चा की। इस दौरान बैठक में मुख्य विकास अधिकारी एके पांडे, अपर जिलाधिकारी एफआर चौहान,  नगर आयुक्त हल्द्वानी, विशाल मिश्रा, डीडीएम नाबार्ड, एलडीएम अग्रणी जिला बैंक आदि सहित विभिन्न विभागीय अधिकारी और बैंक प्रबंधक उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें -  कुमाऊं- मां और दो युवकों पर किया हमला, आरोपी युवक ने तोड़ा दम
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Join WhatsApp Group

Daleep Singh Gariya

संपादक - देवभूमि 24