उत्तराखण्डएक्सीडेंटरामनगर

गर्जिया देवी मंदिर परिसर में भीषण अग्निकांड, दर्जनों दुकानें हुई स्वाहा

ख़बर शेयर करें -

रामनगर। प्रसिद्ध गर्जिया देवी मंदिर परिसर में सोमवार को दिन के समय अचानक भीषण आग धधक उठी। आग की चपेट में आने से 40 से ज्यादा प्रसाद विक्रेताओं की दुकानें जलकर स्वाहा हो गई। सूचना पर पहुंची दमकल कर्मियों की टीम ने आग पर बमुश्किल काबू पाया। अचानक इस आग लगने से वहां मौजूद श्रद्धालुओं में अफरा-तफरी का माहौल हो गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार को दिन में गर्जिया देवी मंदिर के नीचे स्थित एक दर्जन से ज्यादा प्रसाद की दुकानों में अचानक आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि वहां मौजूद 40 से अधिक दुकानों को अपनी चपेट में ले लिया। सभी दुकानें जलकर राख हो गई। सूचना पर पहुंची दमकल कर्मियों व पुलिस कर्मी ने बमुश्किल आग पर काबू पाया। इस आग से वहां चारों तरफ धुएं से अंधेरा छा गया।

यह भी पढ़ें -  स्कूलों में राज्य आंदोलन के इतिहास से रूबरू होंगे बच्चे, पुस्तक तैयार

 वहां मंदिर में दर्शन को आये भक्तजनों में अफरा-तफरी मच गई, लोग अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागते नजर आए। फिलहाल इस अग्निकांड में कोई भी जानमाल की बड़ी हानि की खबर नहीं है, वर्तमान में स्तिथि नियंत्रण में बताई जा रही है। आग से कितना नुकसान हुआ, अभी इसका कोई आंकलन नहीं हो सका है। मौके पर पहुंची दमकल विभाग की टीम और पुलिस मामले की जांच कर रही है। लेकिन अभी तक आग लगने के कारण साफ नहीं हुआ है। प्रथम दृष्टया किसी श्रद्धालु द्वारा जलाई गई धूप बत्ती से आग लगने की आशंका जताई जा रही है।

यह भी पढ़ें -  कैंची धाम नाम से जानी जाएगी कोश्याकुटौली तहसील, सीएम ने की थी घोषणा

पीड़ित प्रसाद विक्रेताओं का कहना है कि कल से चैत्र नवरात्रि शुरू हो रहे हैं, ऐसे में सभी ने लाखों रुपए का सामान अपनी दुकानों में भरा था, लेकिन आग आग से उनके मोबाइल फोन, कुर्सियां, खाद्य सामग्री, प्रसाद आदि के साथ ही पैसे आदि सामान जलकर राख हो गए। जिससे उनके सामने रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है।

यह भी पढ़ें -  शिप्रा नदी क्षेत्र में जल संरक्षण, संवर्धन और सफाई के लिए चलाया अभियान
What’s your Reaction?
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Join WhatsApp Group

Daleep Singh Gariya

संपादक - देवभूमि 24