उत्तराखण्डजन-मुद्देनैनीताल

आपदा की सूचनाओं को गंभीरता से लें अधिकारी, तैयार करें टीमः डीएम

ख़बर शेयर करें -

नैनीताल। जिलाधिकारी वंदना सिंह की अध्यक्षता में बुधवार को नैनीताल कैंप कार्यालय सभागार में मानसून से पूर्व आपदा प्रबंधन की तैयारियों, बाढ़ नियत्रंण के संबंध में बैठक हुई। उन्होंने मानसून सीजन में सभी अधिकारियों को अलर्ट मोड़ पर रहने के साथ ही किसी भी प्रकार की आपदा की स्थिति में स्वतः संज्ञान लेते हुए अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने के निर्देश दिए। जिससे समय पर आपदा के प्रभाव को कम कर लोगों को राहत दी जा सके। 

जिलाधिकारी ने सभी एसडीएम को अपने क्षेत्र के अंतर्गत सतर्क रहते हुए आज की बैठक में दिए गए निर्देशों की मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। सभी एसडीएम अपने क्षेत्र में सड़क, बिजली, पानी, चिकित्सा, राजस्व और पशुपालन विभाग के कार्मिकों की नाम सहित एक टीम तैयार करेंगे। किसी भी प्रकार की आपदा की सूचना मिलते ही तत्काल मौके के लिए टीम रवाना होगी। मौके पर ही प्रभावितो को राहत हेतु मुआवजा राशि दी जाए इसके लिए पटवारी मौके पर ही प्रपत्रों को भरेंगे तथा तकनीकी विभाग आकलन करेगा जिससे प्रभावितों को मुआवजे के लिए अनावश्यक सरकारी दफ्तरों के चक्कर न काटना पड़े। 

यह भी पढ़ें -  महायोजना के प्रारूप में रोस्टर बनाकर काम करें अधिकारीः आयुक्त

डीएम ने कहा कि मानसून सीजन में पेयजल , तहसील आदि विभागों  के द्वारा 24*7 कन्ट्रोल रूम एक्टीवेट किए जाते है। आम जन की सुविधा हेतु जारी किए जा रहे नंबर चालू रहे, इसके साथ ही कंट्रोल रूम आम जन की शिकायतो को सुनकर सबंधित विभाग को अवगत कराए जिससे प्राथमिकता से आपदा ग्रस्त क्षेत्रों में राहत पहुंचाई जा सके । उन्होंने पेयजल विभाग को ग्रामीण क्षेत्रों में सूख चुके ऐसे हैंडपंप जो अब मरम्मत के बाद भी ठीक नहीं होंगे उन्हें तत्काल हटाने के निर्देश दिए। साथ ही जो हैंडपंप मरम्मत के बाद चालू हो सकते है उनकी तत्काल मरम्मत कर चालू करने को कहा। 

यह भी पढ़ें -  आत्महत्या मामले में आरोपी अजय गुप्ता और उसके बहनोई पर फेंकी स्याही, कोर्ट के बाहर हुआ हंगामा

बैठक में डीएम ने निर्माणदाई एजेंसियों को क्षेत्र में हो रहे डामरीकरण के कार्य में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। इसके लिए सभी ईई स्वयं कार्यों के गुणवत्ता की जांच करे। उन्होंने सख्त निर्देश दिए कि सड़क का डामरीकरण कार्य में गुणवत्ता में लापरवाही न हो । मानसून सीजन में लगने वाली जेसीबी मशीन के ऑपरेटर , फ़ोन नंबर और उनके लोकेशन को सूची एक हफ्ते में अपडेट कर कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराने को कहा। 

यह भी पढ़ें -  करंट की चपेट में आई पेड़ पर चढ़ी महिला, हुई मौत

इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी अशोक कुमार पांडे, सिटी मजिस्ट्रेट ए पी वाजेपई, डीएफओ चंद्रशेखर जोशी, मुख्य शिक्षा अधिकारी जे एम सोनी, प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. श्वेता भंडारी, एस डी एम हल्द्वानी परितोष वर्मा, नैनीताल प्रमोद कुमार, रामनगर राहुल शाह, धारी के एन गोस्वामी, कोश्याकुटोली विपिन पंत, कालाढूंगी रेखा कोहली, डीडीएमओ शैलेश कुमार समेत सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Join WhatsApp Group

Daleep Singh Gariya

संपादक - देवभूमि 24