उत्तराखण्डक्राइमदेहरादून

आत्महत्या मामले में आरोपी अजय गुप्ता और उसके बहनोई पर फेंकी स्याही, कोर्ट के बाहर हुआ हंगामा

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के दून में हुए बिल्डर साहनी आत्महत्या मामले में पुलिस शनिवार को आरोपी अजय गुप्ता और उसके बहनोई अनिल गुप्ता को कोर्ट में पेश करने लाई। जहां कोर्ट के बाहर जमकर हंगामा हुआ। इस बीच दोनों आरोपियों पर स्याही फेंकी गई। 

 न्यायालय परिसर के बाहर अजय गुप्ता और उसके बहनोई पर स्याही फेंकी गई। सूरज सेवा दल के नेता रमेश जोशी व कार्यकर्ताओं ने इस दौरान यहां जमकर हंगामा किया। मजिस्ट्रेट कोर्ट में आज यानि शनिवार को बिल्डर बाबा साहनी मामले में सुनवाई होनी है। बिल्डर बाबा साहनी को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपी अजय गुप्ता व उसके बहनोई अनिल गुप्ता की जमानत न्यायालय ने नामंजूर कर दिया था। दोनों की जमानत अर्जी पर बचाव और अभियोजन पक्ष में जोरदार बहस हुई थी।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में इस विभाग के अधिकारियों को मिले प्रमोशन

 इस दौरान बचाव पक्ष के तर्कों को खारिज करते हुए न्यायालय ने जमानत देने से इन्कार कर दिया। बचाव पक्ष ने आरोप लगाए कि अजय गुप्ता बीमार हैं लेकिन जेल में उन्हें मेडिकल सुविधा नहीं दी जा रही है। इस पर न्यायालय ने जेल प्रशासन से रिपोर्ट मांगी थी। बाबा साहनी ने रिहायशी बिल्डिंग के आठवें फ्लोर से कूदकर आत्महत्या कर ली थी। साहनी के पास से मिले सुसाइड नोट के आधार पर अजय गुप्ता और उसके बहनोई को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

यह भी पढ़ें -  विश्व पर्यावरण पर की सफाई, पर्यावरण मित्रों को मिला सम्मान

 आरोप था कि रिहायशी प्रोजेक्ट बनाने में जो गुप्ता ने हिस्सेदारी की थी अब उसके बदले वह पूरा प्रोजेक्ट ही अपने नाम कराना चाहता था। ऐसे में दबाव में आकर साहनी ने यह आत्मघाती कदम उठा लिया। पुलिस ने गुप्ता और उसके बहनोई को अदालत में पेश किया, जिन्हें अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड की पांचों सीटों पर भाजपा की बढ़त, जश्न शुरू
What’s your Reaction?
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
Join WhatsApp Group

Daleep Singh Gariya

संपादक - देवभूमि 24